Login Form

signup form

Jyotish

Jyotish

ज्योतिष ग्रहों को जानने की एक प्राचीन विद्या है। यह हमारे ऋषि-मुनियों द्वारा प्रदत्त एक ज्ञान है। ज्योतिष ग्रहों की गणितीय गणना है। ज्योतिष का सबसे बड़ा लाभ यह है कि व्यक्ति को अपनी अनुकूल और प्रतिकूल स्थिति का ज्ञान हो जाता है, जिससे वह उसके अनुसार कार्य करता है तो विपरीत परिस्थितियों में भी उसे संबल मिलता है। पृथ्वी से कई प्रकाश वर्ष दूर ग्रहों का मानव पर क्या प्रभाव पड़ेगा। इसका अध्ययन ज्योतिष में किया जाता है। ज्योतिष के द्वारा ज्ञात हो सकता है कि कौनसे ग्रह उस पर अच्छा प्रभाव डालेंगे और कौनसे से ग्रह बुरा।  वास्तव में कोई व्यक्ति अपने जीवन में कौन सा कार्य करेगा या व्यवसाय करेगा कि नौकरी करेगा ,ये सब उसकी जन्मकुंडली देखकर या उसका D-10चार्ट से देखा जा सकता है।इसलिए कैरीअर चूनने से पहले आप योग्य ज्योतिषी को दिखाकर उसका carrier पता कर सकते है। 

वास्तु एक प्राचीन वैज्ञानिक पद्घिति है जिसे आज के समय में भी नकारा नहीं जा सकता। कारण यह है कि संसार में सभी कुछ उर्जा द्वारा नियंत्रित है। उर्जा दो तरह की होती है नकारात्मक और सकारात्मक। जहां वास्तु अनुकूल होता है वहां सकारात्मक उर्जा का संचार होता और जहां वास्तु में किसी प्रकार का दोष आता है तो नकारात्मक उर्जा का संचार होने लगता है जो स्वास्थ्य की हानि से लेकर आर्थिक परेशानी का कारण बनकर तकलीफ देता है।